backlinks create करने के लिए basic 5 तरीके

backlinks create करने के लिए basic 5 तरीके

हम blog या website बनाने के बाद जल्द रैंक प्राप्त करने के लिए बैकलिंग और शेरिंग प्रोसेस शुरू कर देते है, जिन लोगोंने ब्लॉगर पर कदम रख लिया है. उन लोगो तो जरूर जानते है की बैकलिंक कैसे बनाये जानते है. यदि आपके दिमांग में ये सवाल है की backlink बनाना जरुरी है तो हा, भले भी आपने Unique contents लिखा हो but कम बनाने पड़ता है.

ये सवाल नए blogger के मन में जरूर confuse करता है, ये भी याद रखना की SEO के लिए backlinks जरुरी है और उनका बड़ा factor भी है. मैं इस आर्टिकल्स में आपको ये share करने जा रहा हूँ जो backlinks बनाने के लिए कितने way है, ये नए blogger को backlinks बनाने में मदद कर सकता है जो शुरुआत basic स्टेप है.

backlinks create करने के लिए basic 5 तरीके

आप जानते ही होंगे की backlinks क्या है, ये हमारे वेबसाइट या ब्लॉग में होना जरुरी है. क्योंकि वह ट्रैफ़िक सीधे आपकी वेबसाइट की quality से संबंधित है, जो अधिक authoritative websites है, यदि आपके पास ऐसी लिंक है तो बेहतर रैंकिंग और ट्रैफ़िक आपको मिलेगा.

Google साइट्स पर पूरी नजर रखता है, वेब को क्रॉल करते समय, Google आपकी वेबसाइट के बैकलिंक्स पहले देखता है यह समझने के लिए कि आपके पेज एक दूसरे से कैसे और किन तरीकों से जुड़े हैं. निश्चित रूप से रैंकिंग के सैकड़ों कारक हैं, लेकिन backlinks SEO के लिए सबसे महत्वपूर्ण मीट्रिक का Representation करता है.

अब, यह कहना ज़रूरी नहीं है कि गुणवत्ता वाले बैकलिंक्स मुश्किल हैं, लेकिन ऐसा नहीं होना चाहिए, authoritative websites प्राप्त करने के लिए अपने ऑनलाइन व्यवसाय को लिंक करने, बैकलिंक बनाने या कमाने का एक स्मार्ट तरीका है.

1. Infographics के माध्यम से backlinks

इन्फोग्राफिक्स आपकी वेबसाइट पर ट्रैफ़िक लाने और valuable backlinks प्राप्त करने के सबसे लोकप्रिय तरीकों में से एक है. ये एक अच्छा रास्ता है क्योंकि इसे समझने और साझा करने में आसान हैं. आप इन्फोग्राफिक्सबनाना चाहते है तो एक अच्छी design इमेज के साथ तैयार करे जो unique होना चाहिए और इसमें text भी add करे.

Infographics के माध्यम से backlinks

अपनी इन्फोग्राफिक्स बनाने के लिए, बस ट्रेंडिंग टॉपिक्स का पालन करें और देखें कि लोग क्या देख रहे हैं, फिर statistical data का उपयोग करके अपना इन्फोग्राफिक बनाएं. शुरुआत करने के लिए contents के research और data इकट्ठा करें, फिर किसी को अपनी सामग्री दिखाई देने के लिए खोजें.

यदि आपको पता नहीं की infographics कैसे बनाये जाते है या अनुभव नहीं, online पर कई सारे डिज़ाइनर सर्विस देते है और अपने के लिए पैसे बना रहे है, आप एक Fiver और Freelancer जैसी service join कर सकते है. इस सर्विस में ढेर सारे डिज़ाइनर, SEO एक्सपर्ट, backlinks builder आदि एजेंट मि जायेगे.

जब आप एक infographic बनाने के बाद, आप इसे share करने के लिए दूसरों के लिए आसान बनाने की आवश्यकता है, साथ में मीडिया जनरेटर का उपयोग करके अपना खुद का एम्बेड कोड बनाएं. जो यूजर नहीं जानते थे उने समझ आये होंगे की इन्फोग्राफिक्स के जरिये बैकलिंक्स कैसे बनाये जानते है, infographic कई नई यूजर के भ्रमित करता है. अब तो आपने जाने लिया बस इस तरीके से बनाये जाते है.

2. Guest posting के द्वारा backlinks

कई ब्लॉगर अपने शुरुआत से guest posting करते है ये सीधे नए audiences तक पहुंच रखते है. इसके द्वारा बनाई गई link relationships, exposure, authority और links बनाने के लिए किसी अन्य person के ब्लॉग में पोस्ट योगदान देने की प्रथा है.

Guest posting  के द्वारा backlinks

लिंक Google में primary ranking कारक हैं, और SEO में, अतिथि ब्लॉगिंग अन्य वेबसाइटों के लिंक के अलावा अन्य Marketing विचारों से लिंक की रक्षा करने का एक मजबूत मौका प्रदान करता है. Guest blogging आपके पोस्ट की hosting करने वाले ब्लॉगर्स के साथ संबंध स्थापित करता है.

यदि आप सोच रहे की में भी guest posting करना चाहता हूँ तो पहले ये सोच ने की आवश्यकता है की मैं unique articles लिखने की सोच है क्योंकि Guest posting के लिए कई website या owner का पहेला रूल है कई ओनर चलाते भी लेते है.

आप एक बड़े ब्लॉगर की जरूरतों के अनुसार एक ब्लॉग लेख लिखते हैं और बदले में एक बैकलिंक प्राप्त करते हैं, जिन के guest post लिखा उनके लेख के निचे आपका about, links और photo शो होगा, उनके regular reader आपके साइट पर visit करेंगे, हमे दो फायदे होते है high quality backlinks और traffic.

आप एक guest blogging के लिए अच्छे websites owner ढूढ़ने की कोशिस कर रहे है, यहां आसान तरीका है अपने Search engine पर जाये और लिखे Indian best blogger lists कई सूचि शो होगी और उनके guest post के पेज पर नजर करे की उनके रूल क्या है, अपने पसंदी का टॉपिक उसके category के साथ मेल खाते है.

3. Blog and forum Comments के जरिये backlinks

Blog and Forum Comments

हर कोई उन ब्लॉगों की ओर ध्यान करता है जो इन सूचनाओं का पालन करते हैं, लेकिन कभी-कभी reader को पोस्टिंग ऑफ़र या कुछ और की आवश्यकता होती है. यह वह जगह है जहां आप कदम रखते हैं, उन ब्लॉगों को खोजें जो आपके बिजनेस को कवर करते हैं, चाहे सीधे या कुछ products पर पोस्ट करके जो आपके खुद के हिस्से बनते हैं, और उनका follow करना शुरू करते हैं.

कई ब्लॉगर अपने reader को सवाल पूछने या टिप्पणी सेक्शन में अपनी राय, कहानियां और विचार जोड़ने के लिए invite करते है. यहां सवालों का जवाब मूल पोस्ट द्वारा दिया जाता है, और कई ब्लॉगर हर कमेंट का जवाब देने की कोशिश करेंगे, लेकिन कुछ बेस्ट उत्तर अन्य reader से आते हैं.

सबसे पहले आपके पास जो पोस्ट पढ़ रहे है उनके बारे में जानते है या गलत है चाहे कोई भी सवाल है, तो आप comment सेक्शन में अपने name, email, blog url और comment यानि text जो सवाल कहना चाहते है वही कर सकते है. जब पोस्ट ओनर इस कमेंट को approval देता तब आपकी backlinks एक्टिव होगा, उने अपने comment pending में रहने दिया तो ये backlinks एक्टिव नहीं कही जाएगी.

आप इस तरह Forum comments में भी इस तरह की कमेंट करके बैकलिंक्स बना सकते है, ये वही जगह है जो एक कम्युनिटी बन कर इकट्ठा होते है, इस पर सवाल का जवाब करते है और उनके पर जवाब भी दिए जाते यदि आपके पास ब्लॉग या वेबसाइट पोस्ट है जो सवाल का अच्छे से जवाब दे सके, उनके कह सकते है मेरी पोस्ट URL पर विजिट करने को. इसतरह से आप backlinks बना सकते है.

4. Social Media के द्वारा backlinks

अन्य सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म आपकी साइट के लिए बैकलिंक्स बनाने और उनकी contents को बढ़ावा देने के लिए प्लेटफ़ॉर्म बनाने के लिए महत्वपूर्ण हो सकते हैं. ऑनलाइन पर ढेर सारे social media सेवा है जो आपकी traffic बढ़ाने के लिए और backlinks के लिए बेस्ट है.

जब आप कोई भी सोशल मीडिया पर अपने ब्लॉग करते है उन links पर क्लिक करने से ब्लॉग एक्सेस किये जाते है. सोशल मीडिया से बने link काफी valuable होता है और इसे आप सर्च इंजन पर आसानी कराने में मदद मिलता है.

Social Media के द्वारा backlinks

अब इसके लिए आपको सोशल मीडिया शेयरिंग को बढ़ावा देना होगा और अपने रीडर को impress करना होगा और अपने ब्लॉग से जुड़ने के लिए या invite भी कर सकते है. बस सोशल मीडिया इतना ही है जब आप share करते तब ऐसे शार्ट डिस्क्रिप्शन लिखे साथ में इमेज भी unique बनाये जो reader को attractive करे.

5. Build internal links के माध्यम से backlinks

एक सफल ब्लॉग चलाने के लिए internal लिंक्स एक महत्वपूर्ण कारक हैं और वे लिंक juice पास कर रहे हैं, और आप अपने anchor texts का सकते है. एक अच्छी internal link स्ट्रक्चर के साथ आप यूजर को अपनी वेबसाइट के माध्यम से आसानी से नेविगेट करने और सब उपयोगकर्ता अनुभव को बढ़ाने में मदद कर सकते हैं.

ऐसे ऑनलाइन पर टूल भी है जो आटोमेटिक रूप से आपके ब्लॉग पर internal link बना सकते है खासकर यदि आप WordPress चला रहे हैं, लेकिन आपको इसे मैन्युअल रूप से करना चाहिए, ये करना सिंपल सा तरीका है अपने ब्लॉग की लिंक अपने ब्लॉग में पोस्ट लिखन के बाद या बिच में add कर सकते है.

तो इन बेसिक 5 तरीके से बैकलिंक्स बना सकते है और पेज रैंक करने में सफलता मिल सकती है, कई लोग तो fiver पर से पैसे देकर बैकलिंक्स बनाना पसंद करते आप भी कर सकते है, यदि टाइम नहीं तो. में recommended करता हूं की खुद मेहनत करके बैकलिंक्स बनाना रखे ताकि आपको पता चले की कैसे बैकलिंक्स बनाई जाती और अनुभव भी प्राप्त होगा.

मुझे आशा है कि मेरे इस article की help से आपको backlinks के basics 5 मेथड clear हुए होंगे और इस लेख को आगे शेयर करना भूले.


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *