blog vs websites what's the difference in hindi

blog vs websites what’s the difference? in hindi

मैंने एक week पहले blog के बारे में लेख publish किया था और कई new blogger को ये सावल भ्रमित करता है की Websites और Blog में क्या अंतर है. क्या आपके दिमांग में ये सवाल उत्पन होता है ना. मैंने blog के बारे में लेख में short में बताया था की उसमे कोई ज्यादा अंतर नहीं, यदि आप blog के बारे में अनजान है तो पहले blog क्या है उसी के बारे में जानने की आवश्यकता है.

but, इस लेख में थोड़ा deep जा कर आपको बताऊंगा की blog और websites में क्या अंतर है. जब आप एक नए blogger की शुरुआत करने जाये तब आप एक उत्साहित रूप में आप ये दोनों में एक का चयन करना आसान हो सकता है या दोनों को एक हिस्सा बना सकते है.

Blog और Websites में अंतर क्या है 

आप एक blogger बनना चाहते है तो blog और websites का अंतर जानना जरुरी है, blog और websites के के बिच छोटा अंतर ये है की एक blog एक प्रकार की contents है जो websites पर web page पर शो किया जाता है. उदाहर के लिए, जब कोई online visitor कोई अन्य कंपनी की websiteपर जाते है तो वो कहते है की वे वे कंपनी के ब्लॉग पर गए थे, क्योंकि blog website का हिस्सा है.

कई लोगो को भ्रम हो है वो वही होता यह भ्रम इसलिए भी होता है क्योंकि प्लेटफ़ॉर्म जो पूरी तरह से ब्लॉगिंग के लिए समर्पित है, यह concept बनाता है कि एक व्यक्ति या कंपनी का ब्लॉग भी इन प्लेटफार्मों में से एक पर उनकी प्राथमिक वेबसाइट है.

ज्यादातर मामलों में, Non-blogging वेबसाइटों को नई सामग्री से कम बार अपडेट किया जाता है, फिर संबंधित ब्लॉग पेज और Blog-dedicated website, ब्लॉग ज्यादातर weekly, daily या प्रति घंटा अपडेट से कम अपडेट या publish किया जाता है.

Non-blog websites जैसे कि personal interests और Biography या Business sites ज्यादातर पर उस frequency पर अपने news और blog contents को update करती है और फिर नए पेज जोड़ते है या जरुरी मुजब contents को अपडेट करते है.

blog एक प्रकार की चर्चित करने वाली चीजें है, उनके पास ब्लॉग सामग्री और ब्लॉग मालिकों के बारे में Online conversation बनाने के लिए डिज़ाइन किए गए टिप्पणी अनुभाग हैं, जिनके पास News media platform द्वारा समाचार पाठकों और अन्य प्रकाशकों को ऑनलाइन लेखों के तहत उपलब्ध कराई गई टिप्पणियाँ हैं.

यदि आप एक Blog और websites का उदाहर देखना चाहते है तो नीचे देखे, मैंने mythemesshop का example लिया है आपको समझाने के लिए, यहां websites में blog भी add किया हुवा है, ऊपर header ऊपर देख सकते उनकी product Themes, Plugins, Pricing, Support, Login और Sign up भी विकल्प है, इस sites पर दोनों combine है.

blog vs websites combine

हर  websites एक जैसी format में नहीं होते, उसकी format की हम गिनती भी नहीं कर सकते, कई websites में तो blog का हिस्सा नहीं होता, only अपनी product के बारे होते है.

यदि websites को identification किया जाये कुछ नीचे दिए मुर्दा की तरह होते है.

  • Websites का मुख्य page जो internal websites pages के कई section से contents शो करता है.
  • Website में काम का portfolio होता है.
  • कस्टमर का support और feedback pages भी होता है.
  • कंपनी की policy भी होती है.
  • contact form जो visitor की मदद की अनुमति देता है.
  • Website में product के बारे में एक अलग page होता है (क्या चीजें, क्या features है आदि)
  • Websites में login पेज भी होते है (जब आप amazon site पर कुछ चीजें खरीदने के लिए sign up या sing up करना पड़ता है वे websites एक identification है.)

ऊपर बताये basic websites को पहचान करने के लिए बताये है, इसके अलावा और भी identification हो सकता है आजकल कई तरह की design में websites present है.

और हम Blog की identification किया जाये तो कुछ निचे दिए मुर्दा की तरह होते है

  • Blog post की एक chronological lists 
  • एक comments system जो reader को Communications में भाग लेने
  • Blog post में date, category, author, tags और sub-categories भी होते है.
  • ब्लॉग में privacy pages होते है.
  • Blog में sidebar भी present है जो blog की identification है.

अब आप आसनी से समझ गए है की blog और websites में अंतर क्या है, हम किससे blog कहते और किससे websites कहते है. तो आप हमे comments में बताये आपको ये लेख कैसे लगा, मुझे जरूर आशा थी की ये articles आपको जरूर पसंद आएगा.

ये लेख अपने friends और family के साथ शेयर जरूर करे और उन्हें बातये blog और websites में क्या अंतर है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *